शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करने के लिए जब हम किसी भी कंपनी का चार्ट ओपेन करते हैं तो हमें उस चार्ट पर रंगो के आधार पर दो प्रकार की कैंडल स्टिक दिखाई देती है। जिसमे कुछ कैंडल स्टिक हरे रंग की और कुछ लाल रंग की होती है। हरे रंग की कैंडल स्टिक चार्ट पर उस समय बनती है जब शेयर में तेजी होती है या जब किसी शेयर का भाव बढ़ रहा होता है। इस हरे रंग की कैंडल स्टिक को Bullish Candle Stick कहा जाता है।

इसी प्रकार लाल रंग की कैंडल स्टिक चार्ट पर उस समय बनती है जब किसी भी शेयर में मंदी आती है या जब किसी शेयर का भाव गिर रहा होता है। इस लाल रंग की बनाने वाली कैंडल स्टिक को Bearish Candle Stick कहा जाता है।

Candle Stick Chart par Kaise Banti hai

कैंडल स्टिक शेयर के प्राइस के मूवमेंट के आधार पर बनती है। मार्किट में जिस प्रकार प्राइस का उतार चढ़ाव होता है उसी प्रकार कैंडल स्टिक की आकृति बनती है। ज्यादातर कैंडल स्टिक तीन भागों से मिलकर बनी होती है जैसे upper Shadow, Lower Shadow और Real Body, यह तीनो भाग कैंडल स्टिक के Open Price, Low Price, High Price और Close Price के आधार पर बनता है।

1 – जिस प्राइस से चार्ट पर कैंडल बनना शुरू होता है वह प्राइस Open Price कहलाता है।

2 – जब कैंडल स्टिक किसी प्राइस से ओपन होकर उस प्राइस के और नीचे आ जाती है और low बनाने के बाद फिर ऊपर चली जाती है तो यह जिस प्राइस तक low बनाती है उस प्राइस को low Price कहते हैं।

3 – जब कैंडल स्टिक low बनाने के बाद ऊपर चली जाती है और high बनाती है तो यह प्राइस High Price कहलाता है।

4 – उसके बाद जब कैंडल स्टिक High बनाने के बाद उस High Price के नीचे आकर जहां पर close होती है वह प्राइस close price कहलाता है।

Part of Candle Stick

कैंडल स्टिक के ज्यादातर तीन पार्ट होते हैं जैसे upper Shadow, Lower Shadow और Real Body तो आइये जानते हैं इनके बारे में।

Real Body

किसी भी कैंडल स्टिक के Open Price और Close Price के बीच के हिस्से को रियल बॉडी कहते है। अगर Bullish Candle stick है तो यह रियल बॉडी हरे रंग की होती है इसी प्रकार अगर Bearish Candle Stick है तो या लाल रंग की होती है।

Upper Shadow

किसी भी कैंडल स्टिक में Real Body के ऊपर की तरफ बनने वाली लाइन को Upper Shadow कहते हैं।

Lower Shadow

किसी भी कैंडल स्टिक में Real Body के नीचे की तरफ बनने वाली लाइन को Lower Shadow कहते हैं।

Bullish Candle Stick kise kahte hain

बुलिश कैंडल स्टिक शेयर में तेजी को प्रदर्शित करता है। मान लीजिये किसी शेयर का भाव 40 रुपये से ओपेन होता है और उसका दाम घट कर 35 रुपये का low बनाता है और फिर बढ़कर 65 रुपये का high बनाता है। उसके बाद घट कर 60 रुपये पर close हो जाता है। इस प्रकार जब भी किसी शेयर का भाव open Price के ऊपर जाकर close हो तो इससे बनने वाली कैंडल स्टिक Bullish Candle Stick कहलाती है। यह चार्ट पर हरे रंग की बनती है।

Bearish Candle Stick kise kahte hain

बियरीश कैंडल स्टिक शेयर में मंदी को प्रदर्शित करता है। मान लीजिये जब किसी शेयर का भाव 60 रुपये से ओपेन होकर 65 रुपये का High बनाता है। उसके बाद शेयर का भाव गिरकर 35 रुपये का low बनाता है और 40 रुपये के भाव पर close हो जाता है तो इससे बनाने वाली वाली कैंडल स्टिक Bearish Candle Stick कहलाती है। यह चार्ट पर लाल रंग की बनती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here